You are here
Home > Vastu Shastra >

वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र

Sharing is caring!

वास्तु शास्त्र

हर कोई घर में सुख शांति चाहता है, परंतु कभी कभी व्यक्ति को नुकसान अधिक होने लगता है। अगर आप चाहते हैं घर में सुख शांति और उन्नति हो तो इन बातों का विशेष ध्यान रखें। वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ चीजों को करने से घर में नुकसान होता है।

वास्तु विज्ञान के अनुसार रसोई में कभी भी दूध को खुला नहीं रखें, इससे आर्थिक परेशानी आती है। दूध को हमेशा ढ़क कर रखना चाहिए।

बोनसाई और कंटीले पौधे घर के अंदर नहीं लगाएं। इससे घर का वास्तु बिगड़ता है और नकारात्मक उर्जा फैलती है।

घर के उत्तर पूर्वी भाग में भारी मूर्तियों को नहीं रखना चाहिए।

वास्तु शास्त्र

शयनकक्ष में बिस्तर के नीचे जूते-चप्पल नहीं होने चाहिए। यह नकारात्मक उर्जा को बढ़ाता है और रोग एवं मानसिक परेशानियों को बढ़ाता है। जूते-चप्पल हमेशा घर से बहार ही रखने चाहिए।

लोहे की अलमारी कभी भी बिस्तार के पीछे नहीं रखें। यह भी ध्यान रखें कि लोही की चीजें आपके बिस्तर पर नहीं हो।

घर के बीच में पानी की टंकी, हैंडपंप, घड़ा या दूसरे जल के स्रोत नहीं होने चाहिए यह आर्थिक मामलों में नुकसानदेय होता है।

धन-संपत्ति एवं पारिवारिक सुख-शांति के लिए डूबते हुए जहाज की तस्वीर घर में नहीं रखें।

दान के लिए घर में लाई गई वस्तुओं को अधिक दिनों तक घर में नहीं रखना चाहिए। देवी देवताओं की टूटी मूर्तियों को भी घर में नहीं रखना चाहिए। टूटी हुई मूर्तियों को किसी पेड़ की जड़ में रख देना चाहिए।

वास्तु शास्त्र

Sharing is caring!

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!