You are here
Home > Feng Shui Tips >

5G क्या होता है?

5G क्या होता है?

Sharing is caring!

5G क्या होता है?

5G क्या होता है? 5G Technology कैसे काम करता है what’s 5g wifi Wireless networks में मुख्य रूप से cellular sites होते हैं जिन्हें की sectors में divide किया गया होता है जो की radio waves के माध्यम से information भेजते हैं. ये कहना गलत नहीं होगा की Fourth-generation (4G) Long-Term Evolution (LTE) wi-fi era ने ही 5G का foundation तैयार किया था.

जहाँ 4G, में बड़े,excessivestrength cell towers की जरुरत होती है indicators को radiate करने के लिए longer distances में, वहीँ 5G wireless signals को transmit करने के लिए बहुत सारे small cell stations की जरूरत होती है जिन्हें की छोटी छोटी जगह जैसे की light poles या constructing roofs में लगाया जा सकता है.

What is a 5g network यहाँ पर multiple small cells का इस्तमाल इसलिए होता है क्यूंकि ये millimeter wave spectrum में band of spectrum हमेशा 30 GHz से 300 GHz के भीतर ही होती है और चूँकि 5G में high speeds पैदा करने की जरुरत होती है, जो की केवल brief distances ही journey कर सकता है.

इसके अलावा ये signals किसी भी climate और bodily obstacles, जैसे की buildings से आसानी से intervene हो सकते हैं. यदि हम पहले generations के wi-fi technology की बात करें तब इसमें spectrum की decrease-frequency bands का इस्तमाल होता था.

इसके साथ millimeter-wave demanding situations जिससे की distance और interference ज्यादा होती है, इससे जूझने के लिए wi-fi industry ने 5G networks में lower-frequency spectrum का इस्तमाल करने का सोचा है जिससे Network operators उस spectrum का इस्तमाल कर सकें जो की उनके पास पहले से ही मौजूद है.

एक चीज़ हमें ध्यान रखना चाहिए की lower-frequency spectrum हमेशा ज्यादा distances cover करती है लेकिन इसमें decrease speed और potential होती है millimeter-wave की तुलना में. difference among 4g and 5g

5G Technology के Features

अभी हम कुछ विशेष 5G technology features के संदर्भ में जानते हैं. चलिए जानते हैं की आखिर 5G Technology में ऐसे क्या नए features है जो की मौजूदा community technology में नहीं है.

• इसमें Up to 10Gbps facts rate का होना. इसके साथ 10 to one hundred गुणा की rate में network improvement होना 4G और 4.5G networks की तुलना में.

• 1-millisecond latency का होना

• इसमें one thousand गुणा bandwidth in line with unit location का होना

• इसमें हम Up to one hundred गुणा number के connected devices in keeping with unit vicinity (अगर हम 4G LTE के साथ तुलना करें) तक connect कर सकते हैं

• ये सभी time to be had होता है. इसलिए इसकी 99.999% तक availability है

• इसके अलावा ये one hundredinsurance प्रदान करता है

• ये strength save करने में काफी मदद करता है. जिसके चलते ये लगभग 90% तक network power usage कम करने में मदद करता है

• इसमें आप low power IoT gadgets जो की करीब 10 सालों तक आपको power प्रदान कर सकती है का इस्तमाल कर सकते हैं

• इसमें High increased peak bit fee होती है

• ज्यादा facts volume per unit place (i.E. excessive machine spectral efficiency) होती है

• ज्यादा capacity होती है जो की इसे ज्यादा devices के साथ concurrently और instantly connect होने में मदद करती है

• ये Lower battery intake करती है

• ये बेहतर connectivity प्रदान करती है किसी भी geographic vicinity की अगर आप बात करें तब

• ये ज्यादा नंबर की supporting devices को aid कर सकती है

• इसमें infrastructural improvement करने में काफी कम लागत लगती है

• इसके communications में ज्यादा reliability होती है

5G Deployment की Status क्या है?

5G की मुख्य development विश्व के इन चार देशों में सबसे ज्यादा है वो हैं United States, Japan, South Korea और China. यहाँ पर Wireless community operators ज्यादा ध्यान 5G buildouts को बनाने में दे रहे हैं.

How rapid is 5g internet माना जा रहा है की Network operators 2030 तक लगभग करोड़ों billions dollars 5G के संदर्भ में खर्च करने वाले हैं. जाने माने Tech business enterprise Technology Business Research Inc., का कहना है की ये बात अभी तक भी साफ़ नहीं है की ये 5G services किस प्रकार से अपने funding का return generate करेंगे. ये उम्मीद है की नए companies और Startup जो की 5G के Evolving technology का इस्तमाल करना चाहते हैं वो इन operators के sales का ख्याल रख सकते हैं.

Simultaneously, दुसरे standards bodies भी widely wide-spread 5G device requirements के ऊपर काम कर रहे हैं. निकट भविष्य में ही third Generation Partnership Project (3GPP) ने 5G New Radio (NR) requirements के लिए December 2017 में approval दे दी है और 2018 के ख़त्म होने तक वो 5G cellula middle standard, जो की 5G mobile services के लिए बहुत जरुरी है, को बना लेने की उम्मीद रखते हैं.

ये 5G radio device 4G radios के साथ well suited नहीं है, लेकिन community operators ने wireless radios की खरीदारी करी है जिन्हें की वो improve करना चाहते हैं. वो इसे Software के द्वारा upgrade करना चाहते हैं न की hardware replace क्यूंकि hardware update में उन्हें नए system खरीदने की जरुरत पड़ सकती है.

जहाँ 5Gwi-fi system standards प्राय बन चुकी हैं ऐसे में first 5G-compliant smartphones और दुसरे associated wireless devices commercially 2019 तक available हो जाने की उम्मीद हैं. 5G generation का सम्पूर्ण इस्तमाल 2020 से होने की उम्मीद की जा रही है. सन 2030 तक, 5G services का इस्तमाल full-fledged रूप से किया जायेगा और इसका इस्तमाल virtual reality (VR) content में autonomous vehicle navigation में किया जायेगा. इसे real-time में monitor भी किया जा सकेगा.

More Article

5G क्या होता है?

Sharing is caring!

One thought on “5G क्या होता है?

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!