फेंगशुई: इस पौधे में छिपे होते हैं कई चमत्कारी राज, घर पर रखने से होती है पैसों की बरसात

Feng Shui Tips Hindi

फेंगशुई: इस पौधे में छिपे होते हैं कई चमत्कारी राज, घर पर रखने से होती है पैसों की बरसात


feng shui tips
feng shui tips

 फेंगशुई: इस पौधे में छिपे होते हैं कई चमत्कारी राज, घर पर रखने से होती है पैसों की बरसात


भारतीय वास्तु शास्त्र के साथ चीनी वास्तुशास्त्र फेंगशुई का भी काफी महत्व होता है। जिस तरह से वास्तुशास्त्र में घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए कई उपाय बताए गए है उसी प्रकार से चीनी वास्तु शास्त्र फेंगशुई में भी घर में पैसों और तरक्की पाने के कई उपाय बताए गए है। पैसे की कमी को दूर करने के लिए वैसे तो मनी प्लांट को लगाने की बात कही जाती है, लेकिन बहुत कम लोग यह जानते हैं कि इससे भी ज्यादा कारगार होता है क्रासुला का पौधा।
– क्रासुला के पौधे को मनी प्लांट का तरह फेंगशुई में मनी ट्री कहा जाता है। फेंगशुई में इसका काफी महत्व है। कहते हैं यह पौधा चुंबक की तरह पैसों को अपनी ओर खींचता है।

– यह छोटा सा मखमली पौधा गहरे हरे रंग का होता है और इसका फैलाव बहुत जल्दी से होता है। साथ ही इसको पानी की जरुरत काफी कम होती है।

– इस पौधे को किसी गमले या जमीन में लगा दें, फिर यह अपने आप फैलता रहेगा। इसे धूप या छांव कहीं भी लगाया जा सकता है।

– इस पौधे के बारे में मान्यता है कि यह सकारात्मक ऊर्जा देता रहता है जबकि घर में नकारात्मक ऊर्जा को बाहर करने में मदद करता है। इसे घर के मुख्य द्वार के दायीं तरफ लगाएं। फिर देखिए, कैसे आपके घर में धन की वर्षा होने लगेगी।

जानिए ज्योतिष में कौन-कौन से योग बनाते हैं मनुष्यों को धनवान

Feng shui or fengshui (traditional Chinese風水simplified Chinese风水pronounced [fə́ŋ.ʂwèi] (About this soundlisten)), also known as Chinese geomancy, is a pseudoscience originating from China, which claims to use energy forces to harmonize individuals with their surrounding environment.[1] The term feng shui literally translates as “wind-water” in English. This is a cultural shorthand taken from the passage of the now-lost Book of Burial recorded in Guo Pu‘s commentary:[2] Feng shui is one of the Five Arts of Chinese Metaphysics, classified as physiognomy (observation of appearances through formulas and calculations). The feng shui practice discusses architecture in terms of “invisible forces” that bind the universe, earth, and humanity together, known as qi.


Historically, feng shui was widely used to orient buildings—often spiritually significant structures such as tombs, but also dwellings and other structures—in an auspicious manner. Depending on the particular style of feng shui being used, an auspicious site could be determined by reference to local features such as bodies of water, or stars or the compass.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *