उल्लू देता है भविष्य का संकेत

Sharing is caring!


उल्लू देता है भविष्य का संकेत

उल्लू देता है भविष्य का संकेत

#feng shui tips hindi #astrology #wisdom #wisdom365  

पक्षियों में उल्लू एक ऐसा पक्षी है जिसे अच्छा या बुरा होने का पूर्वाभास हो जाता है . माना जाता है कि जिस व्यक्ति से जुड़ी ये घटनाएं होती हैं , उसे उल्लू वैसी ही क्रिया करता हुआ दिखाई देता है . जैसे , अगर आप किसी यात्रा पर जा रहे हैं और रास्ते में उल्ल दिख जाए तो यह धन की प्राप्ति का संकेत होता है . आइए जानते हैं उल्लू से जुड़े और कौन – कौन से संकेत होते हैं जिससे हमें आने वाली चीजों का आभास हो सकता है . 

अगर आप किसी काम पर जा रहे हैं और आपके बाईं ओर उल्लू दिख जाए तो ये आपके लिए शुभ होता है . जिस भी काम के लिए आप जा रहे होते हैं , वह पूरा होने का संकेत होता है . अगर आपके घर में उल्लू की आवाज सुनाई दे जाए तो यह आपके लिए अशुभ है . 
शास्त्र में घर में उल्लू की आवाज सुनाई देना दुखदायी माना गया है , घर में कोई बड़ा संकट आने वाला है या फिर आ गया है , तो उसके लिए हमेशा तैयार रहें . वहीं अगर गर्भवती महिला को उल्लू की आवाज सुनाई दे जाए तो यह उसके लिए शुभ माना जाता है . 


उल्लू की आवाज सुनाई देना तेजस्वी और आज्ञाकारी संतान का सूचक माना अगर आप कोई शुभ कार्य करके घर वापस आ रहे हैं और रास्ते में उल्लू आपको दाईं तरफ दिख जाए तो यह आपके लिए शुभ नहीं है . इसका मतलब होता है कि आप जो कार्य करके आ रहे हैं , उसको पूरा होने में कुछ समस्या आ सकती है . कहते हैं कि दक्षिण – पश्चिम कोने से आने वाली उल्लू की आवाज आर्थिक संकट की सूचक है . 
पूर्व दिशा में बैठे उल्लू की आवाज सुनने या दर्शन को प्रचंड आर्थिक लाभ का सूचक माना गया है , दक्षिण दिशा में विराजे उल्लू की आवाज शत्रुओं पर विजय सनिश्चित करती है . सुबह उल्लू की आवाज सुनना सौभाग्य कारक और लाभ प्रदायक माना गया है , ऐसा मान्यताएं कहती हैं . 
उल्लू यदि किसी गंभीर रूप से बीमार व्यक्ति का अकस्मात स्पर्श कर ले तो उसके स्वास्थ्य में सुधार होने लगता है . यदि उल्लू किसी को अनायास छू ले तो उसका जीवन आनंद से बीतता है .
Owls in birds are a bird that foreshadows to be good or bad.  It is believed that the person related to these incidents is seen to behave like this.  For example, if you are going on a trip and you look violent on the road then it is an indication of the realization of wealth.  
Let us know who is connected to the owl and which are the signs that can make us realize the things to come.  If you are going to any work and you see the owl on your left, it is auspicious for you.  Whatever work you are going for is an indication of completion.  


If owls are heard in your house then it is inauspicious for you.  In the scriptures it is considered sad to hear the voice of the owl in the house, if there is any major crisis in the house or it has come, then always be prepared for it.  If the pregnant woman is heard of the voice of the owl, it is considered auspicious for her.  
Listening to the voice of the owl as an indicator of stunning and obedient children If you are returning home by doing the auspicious job and if you see the owl on the right side, it is not auspicious for you.  It means that there may be some problem in the completion of the work you are coming through.  
It is said that the voice of the owl coming from the south-west corner is an indicator of the economic crisis.  The sound of the owls sitting in the east, or the philosophy is considered an indicator of the huge economic benefits, the voice of the owl in the south direction ensures victory over the enemies.  
It is believed that listening to the voice of the owl in the morning is a good luck factor and a profit supporter.  If the owl accidentally touches a seriously ill person, his health improves.  If the owl touches someone unexpectedly then his life passes through happiness.

इंटरव्ह्यू Hacks नौकरी पक्की मिलेगी
रोग देते हैं ग्रह
मानसिक तणाव दूर करण्यासाठी feng shui उपाय

चतुर कोल्हा आणि बोलकी गुहा

Feng shui or fengshui (traditional Chinese風水simplified Chinese风水pronounced [fə́ŋ.ʂwèi] (About this soundlisten)), also known as Chinese geomancy, is a pseudoscience originating from China, which claims to use energy forces to harmonize individuals with their surrounding environment.[1] The term feng shui literally translates as “wind-water” in English. This is a cultural shorthand taken from the passage of the now-lost Book of Burial recorded in Guo Pu‘s commentary:[2] Feng shui is one of the Five Arts of Chinese Metaphysics, classified as physiognomy (observation of appearances through formulas and calculations). The feng shui practice discusses architecture in terms of “invisible forces” that bind the universe, earth, and humanity together, known as qi.

Historically, feng shui was widely used to orient buildings—often spiritually significant structures such as tombs, but also dwellings and other structures—in an auspicious manner. Depending on the particular style of feng shui being used, an auspicious site could be determined by reference to local features such as bodies of water, or stars or the compass.

You May Also Like

About the Author: sonu@007

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error: Content is protected !!